सिविल इंजीनियर कैसे बने | Civil Engineer Kaise Bane

आज के इस आर्टिकल के अंदर मैं आपको बताऊंगा कि, आप किस प्रकार सिविल इंजीनियर कैसे बने | Civil Engineer Kaise Bane सिविल इंजीनियरिंग में Job पा सकते हैं, आप जहां भी बड़े-बड़े शहरों में जाते हैं, वहां पर आपको बड़ी-बड़ी इमारतें, मॉल्स और रेस्टोरेंट्स की इमारते दिखाई देती है य़ह सभी एक सिविल इंजीनियरिंग का ही नमूना है, आप कहीं पर भी नजर घुमा कर देखें, चाहे वह गांव हो या शहर सभी और जो भी इमारते बनाई होती है वह सिविल इंजीनियर के द्वारा ही डिजाइन की जाती है और फिर Construct की जाती है, बहुत से लोगों की इच्छा होती है कि, वह अपने आगे आने वाले समय में सिविल इंजीनियरिंग की परीक्षा दे और उसमें सफल हो,  पर बहुत कम लोग ही सिविल इंजीनियरिंग के बारे में जानते हैं, तो यदि आप भी सिविल इंजीनियरिंग के अंदर अपने भविष्य को बनाना चाहते हैं, तो आज के हमारे इस आर्टिकल को जरूर पढ़ें।

इसके अंदर हम आपको कुछ ऐसी बातें बताएंगे जोकि आपकी Civil इंजीनियरिंग की शिक्षा के लिए बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है, हम आपको बताएंगे कि, सिविल इंजीनियरिंग करने के लिए आपको कौन-कौन से डिप्लोमा या डिग्री करनी होती है, वह सब चीजें जानकर आप बड़ी आसानी से सिविल इंजीनियरिंग की शिक्षा को प्राप्त कर सकते हैं और आगे चलकर एक सिविल इंजीनियर बन सकते हैं, तो चलिए आज कल की शुरुआत करते हैं और आपको बताते हैं कि, सिविल इंजीनियर कैसे बना जाता है।

Methods of Civil Engineering (सिविल इंजीनियरिंग के तरीके)

Civil Engineering Kya Hai यदि आप सिविल इंजीनियरिंग करना चाहते हैं, तो हमने आपको नीचे दो तरीके बताए हैं, जिसके द्वारा आप सिविल इंजीनियरिंग की शिक्षा को ग्रहण कर सकते हैं, इसके लिए आपको ज्यादा कुछ नहीं करना होता, बस हमारे नीचे दिए गए दो चीजों का प्रयोग कर सकते हैं, जोकि इस प्रकार है:-

  • सिविल इंजीनियरिंग में B.Tech
  • सिविल इंजीनियरिंग का Course या Diploma

यदि आप इन दो तरीकों के माध्यम से सिविल इंजीनियरिंग करते हैं, तो आप निश्चित ही सिविल इंजीनियरिंग के अंदर एक अच्छी पोस्ट पर निर्धारित होंगे, जिसके द्वारा आप अपने सपने को पूरा कर सकते हैं और अब हम आपको इन दो चीजों के बारे में स्पष्टीकरण देंगे, जोकि हमने आपको नीचे के आर्टिकल के अंदर बताया है। 

Types of Civil Engineering (सिविल इंजीनियरिंग के प्रकार)

Civil इंजीनियरिंग मात्र एक क्षेत्र नहीं है, यह बहुत ज्यादा व्यापक रूप से फैला हुआ क्षेत्र है, इसके अंदर बहुत से प्रकार आते हैं, इसकी कोई निश्चित प्रकार नहीं है, इसको बहुत ज्यादा टुकड़ों में बांटा गया है, यानी जब आप सिविल इंजीनियरिंग का कोर्स या डिप्लोमा करते हैं, तो वह आपके सामने बहुत से क्षेत्र ओपन हो जाते हैं, जिसके अंदर आप अपने भविष्य को बना सकते हैं और उनके अंदर Job प्राप्त कर सकते हैं। 

Civil Engineer Kya Hota Hai or सिविल इंजीनियरिंग का मतलब सिर्फ इमारतें और बिल्डिंग बनाना नहीं होता, इसके अंदर और भी कई चीजें शामिल होती है, जैसे कि, बिल्डिंग का कंस्ट्रक्शन करना या फिर उसका Design तैयार करना, यह सब अलग-अलग इंजीनियर के हाथ में होता है, जोकि सिविल इंजीनियर के ही प्रकार है, इसके अन्य प्रकार निम्नलिखित है:-

  • हाइड्रॉलिक Engineer
  • मेटेरियल Engineer 
  • स्ट्रक्चरल Engineer
  • जियो टेक्निकल Engineer
  • अर्बन Engineer
  • अर्थक्वेक Engineer 
  • एनवायर्नमेंटल Engineer

तो यह सभी प्रकार इंजीनियरिंग के ही प्रकार है, जिनके अंदर आप जाकर जॉब कर सकते हैं, पर इसके लिए आपको सबसे पहले सिविल इंजीनियरिंग का कोर्स या डिप्लोमा करना होगा, फिर ही आप इनके अंदर काम कर सकते हैं। 

Qualifications for Civil Engineering (सिविल इंजीनियरिंग के लिए योग्यताएं)

यदि आप सिविल इंजीनियरिंग के अंदर दाखिला लेना चाहते हैं या फिर इसका Course या डिप्लोमा की शिक्षा को प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपके पास इसके लिए सबसे पहले कुछ योग्यताएं, यानी डिप्लोमा होना चाहिए, इसके लिए सबसे पहले आपके 10वीं या 12वीं के नंबरों को देखा जाता है, यानी उनकी मार्क लिस्ट को देखा जाता है, जब यह सब देख लिया जाता है, तो आप सिविल इंजीनियरिंग के अंदर B.Tech की परीक्षा में दाखिला लेते हैं, जिसके अंदर आपको सिविल इंजीनियरिंग में बीटेक के साथ B.A. भी करनी होती है, उसके बाद आपकी अगली श्रेणी में दाखिला होता है, जोकि M.Tech होता है, एमटेक के लिए बीटेक बहुत ज्यादा जरूरी होती है।

यह 2 से 3 साल का Course होता है, जिसके अंदर हर साल आपकी परीक्षा ली जाती है और उत्तरी होने पर ही आपको आगे की कक्षा में भेजा जाता है, जब आप इन सभी डिप्लोमा को पूरा कर लेते हैं, तो आपका ट्रेनिंग टाइम शुरू होता है, जिसके अंदर आपको कुछ समय के लिए अपने Senior सिविल इंजीनियर के साथ ट्रेनिंग पर जाना होता है, वहां पर Senior आपको सारे काम के बारे में सिखाता है और आप बाद में सिविल इंजीनियरिंग के अंदर जॉब कर सकते हैं और इस क्षेत्र के अंदर जॉब मिलने में भी कोई दिक्कत नहीं आती, बस यह है कि, आपके Diploma तथा Course पूरे होने चाहिए और आपको सिविल इंजीनियरिंग का एक अच्छा ज्ञान होना चाहिए।

Steps For Civil Engineering (सिविल इंजीनियरिंग)

Civil Engineering में शिक्षा प्राप्त करने के लिए चार सबसे प्रमुख साधन हैं, जिनको गुजर करें कि, आप Civil इंजीनियर बन सकते हैं, यह सभी कोर्स या डिप्लोमा अपनी-अपनी समय सीमा रखते हैं, जो कि लगभग 2 या 3 साल की होती है, समय सीमा पूरी हो जाने के बाद आप अगली कक्षा या अगले कोर्स के अंदर एडमिशन ले सकते हैं, इन कोर्स के नाम इस प्रकार है:-

  • B.Tech सिविल इंजीनियरिंग
  • B.A. सिविल इंजीनियरिंग
  • M.Tech सिविल इंजीनियरिंग
  • Diploma इन सिविल इंजीनियरिंग

तो यह सभी कोर्स आप किसी भी सरकारी या प्राइवेट कॉलेज से पूरे कर सकते हैं, सरकारी कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए आपको सबसे पहले एक परीक्षा देनी होती है, जिसमें की JEE की परीक्षा भी शामिल होती है, जब आप यह परीक्षा दे देते हैं, तो आप कम फीस की लागत के अंदर सिविल इंजीनियरिंग कर सकते हैं, पर यदि आप प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं, तो आपको कोई भी परीक्षा नहीं देनी होती, आप उनके अंदर एडमिशन ले सकते हैं, जिनकी सालाना लागत 50 से 1 लाख होती है, पर प्राइवेट कॉलेज में दाखिला लेते समय वहा की शिक्षा प्रणाली पर जरूर ध्यान दें और एक अच्छी शिक्षा समिति को देखकर ही एडमिशन ले।

College For Civil Engineering (सिविल इंजीनियरिंग के लिए कॉलेज)

अब हम आपको सिविल इंजीनियरिंग के लिए कुछ कॉलेज बताते हैं, जो कि सभी लोगों के दृष्टिकोण में सबसे अच्छी मानी जाती हैं, यदि आप उन कॉलेजों से सिविल इंजीनियरिंग शिक्षा को पूरी करते हैं, तो आपको निश्चित ही भविष्य के अंदर एक अच्छी जॉब प्राप्त होगी और आप एक अच्छे पोस्ट पर जाकर सिविल इंजीनियरिंग का काम कर सकते हैं, इन कॉलेजों के नाम इस प्रकार है:-

  • गवर्नमेंट पॉलीटेक्निक, लखनऊ
  • गवर्नमेंट पॉलीटेक्निक, दिल्ली
  • गवर्नमेंट पॉलीटेक्निक, मुम्बई
  • गवर्नमेंट पॉलीटेक्निक, बरेली
  • चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी
  • मालवीय टेक्निकल इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, जयपुर
  • ओस्मानिया यूनिवर्सिटी

तो यह सभी वह कॉलेज है, जो कि सिविल इंजीनियरिंग के लिए सबसे अच्छे माने जाते हैं, इनमें कुछ यूनिवर्सिटीज भी है, जो कि सिविल इंजीनियरिंग के लिए स्पेशल शिक्षा ग्रहण करवाती है, तो यदि आप इन सभी शिक्षा स्थानों से अपनी सिविल इंजीनियरिंग की परीक्षा को पूरी करेंगे, तो आप को निश्चित ही भविष्य में कामयाबी मिलेगी।

FAQ

Q.1: सिविल इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है?

ANS: भारत में अगर एक प्रेशर के लिए एवरेज सैलेरी की बात करें तो यहां 20 से 25000 होती है और जब 1 साल या 2 साल का अनुभव हो जाता है तो उसके बाद एक अच्छे सिविल इंजीनियर की सैलरी 25000 से लेकर 2 लाख के बीच तक हो सकती है।

Q:2: सिविल इंजीनियरिंग में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

ANS: अगर हम इंजीनियरिंग की सभी ब्रांच के ओवरव्यू के बारे में बात करें तो इंजीनियरिंग में कुल 8 सेमेस्टर होते हैं । 6 महीने का एक सेमेस्टर होता है और एक सेमेस्टर में हमें 5 सब्जेक्ट पढ़ने होते हैं । इसके अलावा कुछ एप्टिट्यूड और सॉफ्ट स्किल के भी सब्जेक्ट अलग से पर्सनालिटी डेवलपमेंट के लिए पढ़ाए जाते हैं ।

Q: 3 सिविल इंजीनियर का काम क्या होता है?

ANS: सिविल इंजीनियरी, व्यावसायिक इंजीनियरिंग की एक शाखा है जो कि भौतिक और प्राकृतिक रूप से बने परिवेश में पुल, सड़क,नहरें, बाँध और भवनों आदि के डिजाइन, निर्माण और रखरखाव से जुड़ी है। सिविल इंजीनियरिंग, सैन्य अभियान्त्रिकी के बाद आने वाली इंजीनियरिंग की सबसे पुरानी शाखा है।

Conclusion

धन्यवाद!

ध्यान दें :- ऐसे ही एजुकेशनल और बिज़नेस  की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट civilengineeringinhindi.com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें । और साथ हमारे telegram channel को भी फॉलो करे
Telegram channel link = Follow me

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

आपके काम की अन्य पोस्ट:

civil engineering kya hoti hai

civil engineering in hindi

junior engineer kaise bane

Sharing Is Caring:

मेरा नाम Pankaj Kumar है और मुझे इस ब्लॉग के माध्यम से अपने ज्ञान को इंटरनेट उपयोगकर्ताओं के साथ बांटना पसंद है। इस ब्लॉग के जरिए मैं सिविल इंजीनियरिंग से संबंधित जानकारियां शेयर करता हूं।

2 thoughts on “सिविल इंजीनियर कैसे बने | Civil Engineer Kaise Bane”

Leave a Comment

DMCA.com Protection Status